Monday, September 8, 2014



Hand Of George Bernard Shaw In Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Of George Bernard Shaw In Palmistry


Hand Print of Mark Twain Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Print of Writer Mark Twain Palmistry



TAGS: how to know love marriage or arranged marriage by palm reading, how to know love or arranged marriage through palmistry, how to predict marriage by palmistry, how to read hands love line, how to read love marraige in palm, how to read marriage line, how to read your palm love line, how to see love marriage line in hand, lal kitab, line in hand for love marriage, line in marriage line, line of love marriage, line of love marriage in hand in hindi, line of love marriage on palm, lines of marriage in palmistry, lines on hand meaning marriage, love and marriage line in hand, love in palmistry, love line in men hand, love lines in palmistry, love marraige line, love marriage according to palmistry, love marriage indication palmistry, love marriage line in boy's hand, love marriage line in female hand in urdu, love marriage line in female hands,


Hand Image Of Bhupen Hazarika Palm Reading

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Image Of Bhupen Hazarika Palm Reading





Hand of Lata Mangeshkar Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand of Lata Mangeshkar Palmistry


Hand Image Of Mariah Carey Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Hand Image Of Mariah Carey Palmistry


Palm Print Of Michael Jackson Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Print Of Michael Jackson Palmistry







jackson death







Katy Perry Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology




Katy Perry Palm Image Palmistry


Indian Singer Richa Sharma Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Indian Singer Richa Sharma Palm Reading


Mannade Palm Image Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Mannade Hand Image Palmistry


Bappi Laheri Palm Image Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Bappi Laheri Hand Image Palmistry


Ricky Martin Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Ricky Martin Palm Image Palmistry


Madonna Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Palm Image Of Madonna Palmistry


Leah Dizon Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Leah Dizon Palm Image Palmistry


Mick Jagger Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Mick Jagger Hand Image Palmistry


Singer Johnny Hallyday Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Palm Image Of Singer Johnny Hallyday Palmistry



Korean Pop Superstar Psy ( Gangnam style )

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Korean Pop Superstar Psy ( Gangnam style ) Palm Image


Hand Image of Picasso Palm Reading

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Palm Image of Picasso Palm Reading


Hand Image Of Blind Artist Palm Reading

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology



Palm Image Of Blind Artist Palm Reading



Hand of Steven Paul Jobs Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand of Steven Paul Jobs Palmistry





Hand Image Of Laxminarayan Tripathi Transgender

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Image Of Laxminarayan Tripathi Transgender Palm Reading




                                                           Lakshmi Narayan Tripathi

Marriage Line is also called Line of Affection.  Marriage line does not necessarily show marriage it may only indicate attachment to someone male or female.  In other words this line can indicate anyone whom you consider a friend or loved one.  Marriage line is often found on unmarried person, celibates, saints (sadhu), and kinnar, bisexual, hinjda, eunuchs, and in such cases indicates strong friendship.  So every marriage line does not necessarily represent marriage but it does represent an affection that you have felt or feel for someone.    Keywords: Trans Man



काला धागा और अंगूठी

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology




मोटापा दूर करने का  रामबाण उपाय, कम हो 

जाएगा पेट







आज के समय में सर्वाधिक लोगों की समस्या है मोटापा। असंतुलित खान-पान और अनियमित दिनचर्या के चलते वजन बढऩे की शिकायत आम बात हो गई है। सही समय पर ध्यान न दिया जाए तो यह बीमारी काफी बढ़ जाती है। तब इससे मुक्ति पाना बहुत मुश्किल हो जाता है।


कई लोग मोटापे से मुक्ति पाने के लिए डॉक्टर्स के क्लिनिक में चक्कर लगाने के बाद भी सकारात्मक परिणाम प्राप्त नहीं कर पाते हैं। इस समस्या से निजात पाने का ज्योतिष में भी सटीक और कारगर उपाय बताया गया है। डॉक्टर के उपचार के साथ ही यहां बताया जा रहा ज्योतिष का उपाय भी करेंगे तो बहुत जल्द सकारात्मक फल प्राप्त होंगे।



जो लोग मोटापे से मुक्ति चाहते हैं उन्हें अनामिका उंगली (रिंग फिंगर) में रांगे की अंगूठी पहनना चाहिए। अंगूठी पहनने के लिए सर्वश्रेष्ठ दिन रविवार है।

रांगे की अंगूठी सोना-चांदी आदि धातु का व्यापार करने वाली दुकान पर आसानी से उपलब्ध हो सकती है।

किसी भी रविवार के दिन थोड़ा सा काला धागा अपनी अनामिका उंगली पर लपेट लें। इसके बाद रांगे की धातु से बनी अंगूठी को पहन लें। अंगूठी इस प्रकार पहनें कि वह काला धागा दिखाई न दें।

यह प्रयोग काफ कारगर है। इस प्रकार रांगे की अंगूठी पहनने से मोटापे की समस्या से जल्दी ही मुक्ति मिलेगी। यदि किसी व्यक्ति का चिकित्सकीय उपचार चल रहा है तो डॉक्टर्स आदि द्वारा बताई गई दवाइयों का भी समय पर सेवन करें और टिप्स का नियमित रूप से पालन करें। 

इस उपाय के साथ ही आप अपनी दिनचर्या संयमित करें और खान-पान का विशेष ध्यान रखें। अत्यधिक वसा वाला खाना ना खाएं। व्यायाम करें। इस प्रकार जल्द ही मोटापे से निजात मिलेगी।







Dr. APJ Abdul Kalam's Hand Image Palm Reading

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology








Hand Of Prostitute Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Hand Of Prostitute Palmistry






Nicole Moser Palm Image Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Free Amateur Porn & HomeMade Porn Videos & Pictures Submitted By Visitors The nastiest free original amateur & voyeur home made photos and videos Ex-Girlfriends, Wives, Married Couples, Swingers, Real Amateur Sex! The best of free amateur porn daily

More incredibly hot and horny amateur porn from beautiful visitors of Amateurs Gone Wild 1. Amateur group sex, swinger sex parties and shared housewives fucked for cuckolds 2. The world may be sold for the great ass and pussy of hot woman 3. Beautiful chubby fiancee making love with her future husband and having fun at bisexual swinger parties with lesbian sex 4. Mature lady walking outside and flashing her big lipped pussy at public places with many people around 5. Beautiful young housewife repairing window in da house, then enjoying life on the beach and then having passionate oral and vaginal sex with her husband on the bed in the midnight 6. Naughty blonde girl shots herself nude in the mirror 7. Wild sex on the beach. Summer is a great time for passionate fuck outside 8. Hot and horny women being shared with buddies and gangbanged by 2 and more guys at amateur group sex parties 9. Beautiful girlfriend giving outstanding blowjob, and getting hard fucked and creampied by her boyfriend. She got full pussy of cum and got pregnant (sent by Alta, Luella, Cathryn, Craig, Nathaniel, Tom, Bart, Kendra, Darin, Sheree, Adrian, Lara, Effie, Monica, Terrence, Katheryn, Blaine, Ericka and Carmen)



Hand Of Indian Prostitute Call Girl Whore Palm Reading

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


                                             
exbii.com, indiannudegirls.com, fsiblog.com, indianpornvids.com
                                             Hand of Indian prostitute call girl whore palmistry




Parallel Marriage Lines Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Parallel Marriage Lines Palmistry



Parallel Marriage Line in both hands: Chances of divorce and separation.


Indian Yoga Guru Baba Ramdev Hand Image Palmistry

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology


Indian Yoga Guru Baba Ramdev Hand Image Palmistry











Prabhavshali Tone-Totke & Astro-Remedies

Palm Reading | Palmistry | Tarot Reading | Psychic Reading | Astrology | Horoscope Reading | Zodiac | Vedic Astrology





Tone Totke

1. For curing Sihr (Black Magic) - On Sunday, recite Sura Muzammil Shareef 41 times over water (11 times darood shareef before and after it), and give the water to a patient, and also sprinkle some water over the body of the patient, and if the effects are visible on the house, sprinkle some water in the corners of the house. Keep doing for a couple of weeks, even when the symptoms disappear completely.

2. For curing Evil eye, recite Surah Muzammil Sharif 41 times over a knife, and make the patient stand in the sunlight, so that his shadow is visible, and stab his/her shadow with that knife, and the person will be cured, Inshallah.


3. Read Ayat al Kursi daily, it will cure your problems.


4. For Black magic removal , recite Dua-e-Manzil x3 times over water after Fajr and Maghrib and drink the water, do this for 41 days.


5. For financial problems recites “Ya Razzaqo” x100 times after every Isha (Night Prayer) prayer to improve financial position.


6. Take "Bilva Patra" leaves on Monday, put it on Shiv Linga in the Shiva Temple and while pouring water chant Maha Mrityuanjaya Mantra for just 9 times. Black Magic will remove in seven days.


7. Chanting Gayatri Mantra 108 times daily removes effect of Black Magic.


8. Keep a dog or a cat in your house. Sometimes, the spells casted on you affects them first and you get saved.


9. Worship Lord Ganapati whose trunk is directed towards right i.e. Siddhivinayak and offer him a red flower every Tuesday and Chaturthi.


10. If one recite the holy name of Allah "YA HAYYO YA QAYYUM" for 1100 times everyday then one will be soon released from prison very effective and powerful.


11. For getting success in interview take a lemon and dig four cloves in it then recite x21 times this mantra "Om Sri Hanumantaye Namh:" and blow on it and put it in your pocket and go for interview.  You will get success in interview.  When you return from Interview put this lemon on crossroad.


12. For hurdles in life, throw 1 kg wooden coal and three coconuts in water on three consecutive Amavasya (New Moon Day).


13. To control husband, recite “Yaa Wadudu” x20 daily and blow on any sweet thing (sugar) give it to your husband to eat.


14. Utara- Take a lemon and put some kumkum on it and move it  21 times from head to feet of the victim and take it to a place where 4 road meet and cut it in 4 piece and throw it there or you can also throw it to a dirty place or sewer.


15. Do this ritual on Saturday.  No one should see you when you perform this.  Take 3-4 green chilies and let them dry in sunlight.  Now collect juice of one lemon in bowl.  Now dip all chilies in the bowl of lemon juice and later burn those chilies. Now, you need to drop the ash and remaining parts of chilies on the main gait of your house and shop.  You will see good results in every aspect of your life.


16. For getting success in work start worship Sun and give water to Sun in copper pot.


17. For getting success in interview take a lemon and dig four cloves in it and recite 21 times this mantra "om sri hanumantaye namh:" and put it in your pocket and go for interview and throw it in gutter aur chauraha when you return from interview.


18. If you are facing problem in selling your house then do this simple remedy.  Take 1-1/4 kg Black Channa, 1-1/4 kg Sugar and 1-1/4 kg Suji and mix all together and go to Muslim graveyard and put this mixture in the base of a tree.  You will get result soon.


19. You can use "Baglamukhi Yantra" to remove hurdles & black magic.

Tag: Bhagya Darpan Remedies

20. अगर आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे हों, तो मन्दिर में केले के दो पौधे (नर-मादा) लगा दें।


21. पीपल के वृक्ष की जड़ में तेल का दीपक जला दें। फिर वापस घर आ जाएँ एवं पीछे मुड़कर न देखें। धन लाभ होगा।


22. अगर नौकरी में तरक्की चाहते हैं, तो 7 तरह का अनाज चिड़ियों को डालें।


23. किसी भी शनिवार की शाम को दाल के दाने लें। उसपर थोड़ी सी दही और सिन्दूर लगाकर पीपल के वृक्ष के नीचे रख दें और बिना मुड़कर देखे वापिस आ जायें। सात शनिवार लगातार करने से आर्थिक समृद्धि तथा खुशहाली बनी रहेगी।


24. पीपल के वृक्ष को प्रात: 12 बजे के पहले, जल में थोड़ा दूध मिला कर सींचें और शाम को तेल का दीपक और अगरबत्ती जलाएं। ऐसा किसी भी वार से शुरू करके 7 दिन तक करें। बीमार व्यक्ति को आराम मिलना प्रारम्भ हो जायेगा।


25. किसी कब्र या दरगाह पर सूर्यास्त के पश्चात् तेल का दीपक जलाएं। अगरबत्ती जलाएं और बताशे रखें, फिर वापस मुड़ कर न देखें। बीमार व्यक्ति शीघ्र अच्छा हो जायेगा।


26. प्यार के लिए :

किसी शीशी में अपनी महावारी का खून संभाल कर रख ले ! फिर एक  गुलाबी पेपर लेना है उस पर अपनी महावारी के खून से अपना और अपने पति/लड़के  का नाम लिख देना है फिर उसको फोल्ड कर देना है (सूखने के बाद) ताकि दोनों नाम आपस में मिल जाय ! फिर एक नीम्बू लेना है उसको बीच में से आधा काट देना फिर उस फोल्ड पेपर को उन दोनों नीम्बू के टुकड़ो के बीच में डाल देना है और फिर मोली से नीम्बू के दोनों टुकडो को बांध देना है (पेपर बीच में रहना चाहिए) फिर अपनी प्रार्थना कर लेनी है की पति/लड़के का मोह आपकी तरफ हो जाय (मन में जो भी प्रार्थना हो कर सकती है ) फिर उस नीम्बू को कुएं में फैक देना है !

27.  आधा कप नदी का पानी लेना है, एक चम्मच लाल मिर्च लेनी है , एक चम्मच महेंदी , पांच बूँद चमेली का तेल और पांच बूँद खुद का खून लेना है फिर सबको मिला लेना है बिलकुल  नयी शीशी में फिर उसको लड़के/लड़की(जिसका वशीकरण करना हो ) उसके घर या घर के चबूतरे पर गिरा देना है और प्रार्थना कर लेनी है !

28. एक छोटी ताम्बे की नली लेनी है फिर एक कागज पर अपने खून से सात बार उस व्यक्ति का नाम लिख देना है और फिर उस कागज को उस नली में डाल देना है और उस नली के दोनों मूह बंद कर देने है और फिर उसको गले में पहन लेना है !

29. शुक्रवार की रात को करना है ! कुछ पत्तिया लाल गुलाब की लेनी है , लिपस्टिक लेनी है , एक लिफाफा लेना है , इत्र लेना है , लाल पेन लेना है, गोंद लेना है,  और एक पेपर लेना है  !  रात को पेपर पर अपने पति/प्रेमी/पत्नी का नाम लिखना है और फिर उस पर इत्र छिड़क देना है और फिर उसको लिफाफे में डाल देना है फिर अपने हाथ में गुलाब की पत्तिया लेनी है और प्रार्थना कर लेनी है फिर उनको लिफाफे में डाल देना है और लिफाफा गोंद से बंद कर देना है फिर अपने होठो पर लिपस्टिक लगा कर उस को चूम लेना है ताकि उस पर आपको होठो की निशान बन जाय  फिर उसको कही छुपा कर रख देना है !

30. पीछा छुड़ाने के लिए :




ये शुकवार की रात को करना है ! दो मोमबत्ती लेनी है एक पर खुद का नाम लिख देना है और दूसरी पर उसका नाम लिख देना है फिर दोनों मोमबत्ती के बीच में काले डोरे से पुल बना लेना है ! मतलब दोनों को एक-दूसरे के आमने-सामने रख देना है और काले डोरे से बाँध देना है (ताकि काले डोरे का पुल जैसा बन जाय ) फिर दोनों मोमबत्ती को जला देना है और सामने बैठ जाना है और उसके बारें में सोचते रहना है की उस व्यक्ति से पीछा झूट जाय ! जब तक दोनों मोमबत्ती जल न जाय तब तक उनको देखते रहना है (काले डोरे का से बना हुआ पुल जल कर टूट जाना चाहिए )



यंत्र-मंत्र-तंत्र



बुद्धि और ज्ञान



बुद्धि और ज्ञान

1॰ माघ मास की कृष्णपक्ष अष्टमी के दिन को पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में अर्द्धरात्रि के समय रक्त चन्दन से अनार की कलम से “ॐ ह्वीं´´ को भोजपत्र पर लिख कर नित्य पूजा करने से अपार विद्या, बुद्धि की प्राप्ति होती है।

2॰ उदसौ सूर्यो अगादुदिदं मामकं वच:।

यथाहं शत्रुहोऽसान्यसपत्न: सपत्नहा।।
सपत्नक्षयणो वृषाभिराष्ट्रो विष सहि:।
यथाहभेषां वीराणां विराजानि
 जनस्य च।।
(का॰1, अनु॰5, सू॰29)
यह सूर्य ऊपर चला गया है, मेरा यह मन्त्र भी ऊपर गया है, ताकि मैं शत्रु को मारने वाला होऊँ। प्रतिद्वन्द्वी को नष्ट करने वाला, प्रजाओं की इच्छा को पूरा करने वाला, राष्ट्र को सामर्थ्य से प्राप्त करने वाला तथा जीतने वाला होऊँ, ताकि मैं शत्रु पक्ष के वीरों का तथा अपने एवं पराये लोगों का शासक बन सकूं।
21 रविवार तक सूर्य को नित्य रक्त पुष्प डाल कर
 अर्ध्य दिया जाता है। अर्ध्य द्वारा विसर्जित जल को दक्षिण नासिका, नेत्र, कर्ण व भुजा को स्पर्शित करें। प्रस्तुत मन्त्र `राष्ट्रवर्द्धन´ सूक्त से उद्धृत है।

३॰ बच्चों का पढ़ाई में मन न लगता हो, बार-बार फेल हो जाते हों, तो यह सरल सा टोटका करें-

शुक्ल पक्ष के पहले बृहस्पतिवार को सूर्यास्त से ठीक आधा घंटा पहले बड़ के पत्ते पर पांच अलग-अलग प्रकार की मिठाईयां तथा दो छोटी
 इलायची पीपल के वृक्ष के नीचे श्रद्धा भाव से रखें और अपनी शिक्षा के प्रति कामना करें। पीछे मुड़कर न देखें, सीधे अपने घर आ जाएं। इस प्रकार बिना क्रम टूटे तीन बृहस्पतिवार करें। यह उपाय माता-पिता भी अपने बच्चे के लिये कर सकते हैं।

सुख-समृद्धि




1‌‌‍॰ यदि परिश्रम के पश्चात् भी कारोबार ठप्प हो, या धन आकर खर्च हो जाता हो तो यह टोटका काम में लें। किसी गुरू पुष्य योग और शुभ चन्द्रमा के दिन प्रात: हरे रंग के कपड़े की छोटी थैली तैयार करें। श्री गणेश के चित्र अथवा मूर्ति के आगे “संकटनाशन गणेश स्तोत्र´´ के 11 पाठ करें। तत्पश्चात् इस थैली में 7 मूंग, 10 ग्राम साबुत धनिया, एक पंचमुखी रूद्राक्ष, एक चांदी का रूपया या 2 सुपारी, 2

 हल्दी की गांठ रख कर दाहिने मुख के गणेश जी को शुद्ध घी के मोदक का भोग लगाएं। फिर यह थैली तिजोरी या कैश बॉक्स में रख दें। गरीबों और ब्राह्मणों को दान करते रहे। आर्थिक स्थिति में शीघ्र सुधार आएगा। 1 साल बाद नयी थैली बना कर बदलते रहें।

2॰ किसी के प्रत्येक शुभ कार्य में बाधा आती हो या विलम्ब होता हो तो रविवार को भैरों जी के मंदिर में सिंदूर का चोला चढ़ा कर “बटुक भैरव स्तोत्र´´ का एक पाठ कर के गौ, कौओं और काले कुत्तों को उनकी रूचि का पदार्थ खिलाना चाहिए। ऐसा वर्ष में 4-5 बार करने से कार्य बाधाएं नष्ट हो जाएंगी।


3॰ रूके हुए कार्यों की सिद्धि के लिए यह प्रयोग बहुत ही लाभदायक है। गणेश चतुर्थी को गणेश जी का ऐसा चित्र घर या दुकान पर लगाएं, जिसमें उनकी सूंड दायीं ओर मुड़ी हुई हो। इसकी आराधना करें। इसके आगे लौंग तथा सुपारी रखें। जब भी कहीं काम पर जाना हो, तो एक लौंग तथा सुपारी को साथ ले कर जाएं, तो काम सिद्ध होगा। लौंग को चूसें तथा सुपारी को वापस ला कर गणेश जी के आगे रख दें तथा जाते हुए कहें

 `जय गणेश काटो कलेश´।

4॰ सरकारी या निजी रोजगार क्षेत्र में परिश्रम के उपरांत भी सफलता नहीं मिल रही हो, तो नियमपूर्वक किये गये विष्णु यज्ञ की विभूति ले कर, अपने पितरों की `कुशा´ की मूर्ति बना कर, गंगाजल से स्नान करायें तथा यज्ञ विभूति लगा कर, कुछ भोग लगा दें और उनसे कार्य की सफलता हेतु कृपा करने की प्रार्थना करें। किसी धार्मिक ग्रंथ का एक अध्याय पढ़ कर, उस कुशा की मूर्ति को पवित्र नदी या सरोवर में

 प्रवाहित कर दें। सफलता अवश्य मिलेगी। सफलता के पश्चात् किसी शुभ कार्य में दानादि दें।

5॰ व्यापार, विवाह या किसी भी कार्य के करने में बार-बार असफलता मिल रही हो तो यह टोटका करें- सरसों के तैल में सिके गेहूँ के आटे व पुराने गुड़ से तैयार सात पूये, सात मदार (आक) के पुष्प, सिंदूर, आटे से तैयार सरसों के तैल का रूई की बत्ती से जलता दीपक, पत्तल या अरण्डी के पत्ते पर रखकर शनिवार की रात्रि में किसी चौराहे पर रखें और कहें -“हे मेरे दुर्भाग्य तुझे यहीं छोड़े जा रहा हूँ कृपा

 करके मेरा पीछा ना करना।´´ सामान रखकर पीछे मुड़कर न देखें।

6॰ सिन्दूर लगे हनुमान जी की मूर्ति का सिन्दूर लेकर सीता जी के चरणों में लगाएँ। फिर माता सीता से एक श्वास में अपनी कामना निवेदित कर भक्ति पूर्वक प्रणाम कर वापस आ जाएँ। इस प्रकार कुछ दिन करने पर सभी प्रकार की बाधाओं का निवारण होता है। 


7॰ किसी शनिवार को, यदि उस दिन `सर्वार्थ सिद्धि योग’ हो तो अति उत्तम सांयकाल अपनी लम्बाई के बराबर लाल रेशमी सूत नाप लें। फिर एक पत्ता बरगद का तोड़ें। उसे स्वच्छ जल से धोकर पोंछ लें। तब पत्ते पर अपनी कामना रुपी नापा हुआ लाल रेशमी सूत लपेट दें और पत्ते को बहते हुए जल में प्रवाहित कर दें। इस प्रयोग से सभी प्रकार की बाधाएँ दूर होती हैं और कामनाओं की पूर्ति होती है।


8॰ रविवार पुष्य नक्षत्र में एक कौआ अथवा काला कुत्ता पकड़े। उसके दाएँ पैर का नाखून काटें। इस नाखून को ताबीज में भरकर, धूपदीपादि से पूजन कर धारण करें। इससे आर्थिक बाधा दूर होती है। कौए या काले कुत्ते दोनों में से किसी एक का नाखून लें। दोनों का एक साथ प्रयोग न करें।


9॰ प्रत्येक प्रकार के संकट निवारण के लिये भगवान गणेश की मूर्ति पर कम से कम 21 दिन तक थोड़ी-थोड़ी जावित्री चढ़ावे और रात को सोते समय थोड़ी जावित्री खाकर सोवे। यह प्रयोग 21, 42, 64 या 84 दिनों तक करें।


10॰ अक्सर सुनने में आता है कि घर में कमाई तो बहुत है, किन्तु पैसा नहीं टिकता, तो यह प्रयोग करें। जब आटा पिसवाने जाते हैं तो उससे पहले थोड़े से गेंहू में 11 पत्ते तुलसी तथा 2 दाने केसर के डाल कर

 मिला लें तथा अब इसको बाकी गेंहू में मिला कर पिसवा लें। यह क्रिया सोमवार और शनिवार को करें। फिर घर में धन की कमी नहीं रहेगी।

11॰ आटा पिसते समय उसमें 100 ग्राम काले चने भी पिसने के लियें डाल दिया करें तथा केवल शनिवार को ही आटा पिसवाने का नियम बना लें।


12॰ शनिवार को खाने में किसी भी रूप में काला चना अवश्य ले लिया करें।


13॰ अगर पर्याप्त धर्नाजन के पश्चात् भी धन संचय नहीं हो रहा हो, तो काले कुत्ते को प्रत्येक शनिवार को कड़वे तेल (सरसों के तेल) से चुपड़ी रोटी खिलाएँ। 


14॰ संध्या समय सोना, पढ़ना और भोजन करना निषिद्ध है। सोने से पूर्व पैरों को ठंडे पानी से धोना चाहिए, किन्तु गीले पैर नहीं सोना चाहिए। इससे धन का क्षय होता है।


15॰ रात्रि में चावल, दही और सत्तू का सेवन करने से लक्ष्मी का निरादर होता है। अत: समृद्धि चाहने वालों को तथा जिन व्यक्तियों को आर्थिक कष्ट रहते हों, उन्हें इनका सेवन रात्रि भोज में नहीं करना चाहिये।


16॰ भोजन सदैव पूर्व या उत्तर की ओर मुख कर के करना चाहिए। संभव हो तो रसोईघर में ही बैठकर भोजन करें इससे राहु शांत होता है। जूते पहने हुए कभी भोजन नहीं करना चाहिए।


17॰ सुबह कुल्ला किए बिना पानी या चाय न पीएं। जूठे हाथों से या पैरों से कभी गौ, ब्राह्मण तथा अग्नि का स्पर्श न करें।


18॰ घर में देवी-देवताओं पर चढ़ाये गये फूल या हार के सूख जाने पर भी उन्हें घर में रखना अलाभकारी

 होता है।

19॰ अपने घर में पवित्र नदियों का जल संग्रह कर के रखना चाहिए। इसे घर के ईशान कोण में रखने से अधिक लाभ होता है।


20॰ रविवार के दिन पुष्य नक्षत्र हो, तब गूलर के वृक्ष की जड़ प्राप्त कर के घर लाएं। इसे धूप, दीप करके धन स्थान पर रख दें। यदि इसे धारण करना चाहें तो स्वर्ण ताबीज में भर कर धारण कर लें। जब तक यह ताबीज आपके पास रहेगी, तब तक कोई कमी नहीं आयेगी। घर में संतान सुख उत्तम रहेगा।

 यश की प्राप्ति होती रहेगी। धन संपदा भरपूर होंगे। सुख शांति और संतुष्टि की प्राप्ति होगी।

21॰ `देव सखा´ आदि 18 पुत्रवर्ग भगवती लक्ष्मी के कहे गये हैं। इनके नाम के आदि में और अन्त में `नम:´ लगाकर जप करने से अभीष्ट धन की प्राप्ति होती है। यथा - ॐ देवसखाय नम:, चिक्लीताय, आनन्दाय, कर्दमाय, श्रीप्रदाय, जातवेदाय, अनुरागाय, सम्वादाय, विजयाय, वल्लभाय, मदाय, हर्षाय, बलाय, तेजसे, दमकाय, सलिलाय, गुग्गुलाय, ॐ कुरूण्टकाय नम:।


22॰ किसी कार्य की सिद्धि के लिए जाते समय घर से निकलने से

 पूर्व ही अपने हाथ में रोटी ले लें। मार्ग में जहां भी कौए दिखलाई दें, वहां उस रोटी के टुकड़े कर के डाल दें और आगे बढ़ जाएं। इससे सफलता प्राप्त होती है।

23॰ किसी भी आवश्यक कार्य के लिए घर से निकलते समय घर की देहली के बाहर, पूर्व दिशा की ओर, एक मुट्ठी घुघंची को रख कर अपना कार्य बोलते हुए, उस पर बलपूर्वक पैर रख कर, कार्य हेतु निकल जाएं, तो अवश्य ही कार्य में सफलता मिलती है।


24॰ अगर किसी काम से जाना हो, तो एक नींबू लें। उसपर 4 लौंग गाड़ दें तथा इस मंत्र का जाप करें : `ॐ श्री हनुमते नम:´। 21 बार जाप करने के बाद उसको साथ ले कर जाएं। काम में

 किसी प्रकार की बाधा नहीं आएगी।

25॰ चुटकी भर हींग अपने ऊपर से वार कर उत्तर दिशा में फेंक दें। प्रात:काल तीन हरी इलायची को दाएँ हाथ में रखकर “श्रीं श्रीं´´ बोलें, उसे खा लें, फिर बाहर जाए¡।


26॰ जिन व्यक्तियों को लाख प्रयत्न करने पर भी स्वयं का मकान न बन पा रहा हो, वे इस टोटके को अपनाएं। 

प्रत्येक शुक्रवार को नियम से किसी भूखे को भोजन कराएं और रविवार के दिन गाय को गुड़ खिलाएं। ऐसा नियमित करने से अपनी अचल  सम्पति बनेगी या पैतृक सम्पति प्राप्त होगी। अगर सम्भव हो तो प्रात:काल स्नान-ध्यान के पश्चात् निम्न मंत्र का जाप करें। “ॐ पद्मावती पद्म कुशी वज्रवज्रांपुशी प्रतिब भवंति भवंति।।´´

27॰ यह प्रयोग नवरात्रि के दिनों में अष्टमी तिथि को किया जाता है। इस दिन प्रात:काल उठ कर पूजा स्थल में गंगाजल, कुआं जल, बोरिंग जल में से जो उपलब्ध हो, उसके छींटे लगाएं, फिर एक पाटे के ऊपर दुर्गा जी के चित्र के सामने, पूर्व में मुंह करते हुए उस पर 5 ग्राम सिक्के रखें। साबुत सिक्कों पर रोली, लाल चन्दन एवं एक गुलाब का पुष्प चढ़ाएं। माता से प्रार्थना करें। इन सबको पोटली बांध कर अपने  गल्ले, संदूक या अलमारी में रख दें। यह टोटका हर 6 माह बाद पुन: दोहराएं।


28॰ घर में समृद्धि लाने हेतु घर के उत्तरपश्चिम के कोण (वायव्य कोण) में सुन्दर से मिट्टी के बर्तन में कुछ सोने-चांदी के सिक्के, लाल कपड़े में बांध कर रखें। फिर बर्तन को गेहूं या चावल से भर दें। ऐसा करने से घर में धन का अभाव नहीं रहेगा।


29॰ व्यक्ति को ऋण मुक्त कराने में यह टोटका अवश्य सहायता करेगा : मंगलवार को शिव मन्दिर में जा कर शिवलिंग पर मसूर की दाल “ॐ ऋण मुक्तेश्वर महादेवाय नम:´´ मंत्र बोलते हुए चढ़ाएं।


30॰ जिन व्यक्तियों को निरन्तर कर्ज घेरे रहते हैं, उन्हें प्रतिदिन “ऋणमोचक मंगल स्तोत्र´´ का पाठ करना चाहिये। यह पाठ शुक्ल पक्ष के प्रथम मंगलवार से शुरू करना चाहिये। यदि प्रतिदिन किसी कारण न कर

 सकें, तो प्रत्येक मंगलवार को अवश्य करना चाहिये।

31॰ सोमवार के दिन एक रूमाल, 5 गुलाब के फूल, 1 चांदी का पत्ता, थोड़े से चावल तथा थोड़ा सा गुड़ लें। फिर किसी विष्णुण्लक्ष्मी जी के मिन्दर में जा कर मूर्त्ति के सामने रूमाल रख कर शेष वस्तुओं को हाथ में लेकर 21 बार गायत्री मंत्र का पाठ करते हुए बारी-बारी इन वस्तुओं को उसमें डालते रहें। फिर इनको इकट्ठा कर के कहें की `मेरी परेशानियां दूर हो जाएं तथा मेरा कर्जा उतर जाए´। यह क्रिया आगामी  7 सोमवार और करें। कर्जा जल्दी उतर जाएगा तथा परेशानियां भी दूर हो जाएंगी।


32॰ सर्वप्रथम 5 लाल गुलाब के पूर्ण खिले हुए फूल लें। इसके पश्चात् डेढ़ मीटर सफेद कपड़ा ले कर अपने सामने बिछा लें। इन पांचों गुलाब के फुलों को उसमें, गायत्री मंत्र 21 बार पढ़ते हुए बांध दें। अब स्वयं जा कर इन्हें जल में प्रवाहित कर दें। भगवान ने चाहा तो जल्दी ही कर्ज से मुक्ति प्राप्त होगी।


33॰ कर्ज-मुक्ति के लिये “गजेन्द्र-मोक्ष´´ स्तोत्र का प्रतिदिन सूर्योदय से पूर्व पाठ अमोघ उपाय है।


34॰ घर में स्थायी सुख-समृद्धि हेतु पीपल के वृक्ष की छाया में खड़े रह कर लोहे के बर्तन में जल, चीनी, घी तथा दूध मिला कर पीपल के वृक्ष की जड़ में डालने से घर में लम्बे समय तक सुख-समृद्धि रहती है और लक्ष्मी का वास होता है।


35॰ अगर निरन्तर कर्ज में फँसते जा रहे हों, तो श्मशान के कुएं का जल लाकर किसी पीपल के वृक्ष पर चढ़ाना चाहिए। यह 6 शनिवार किया जाए, तो आश्चर्यजनक परिणाम प्राप्त होते हैं।


36॰ घर में बार-बार धन हानि हो रही हो तों वीरवार को घर के मुख्य द्वार पर गुलाल छिड़क कर गुलाल पर शुद्ध घी का दोमुखी (दो मुख वाला) दीपक जलाना चाहिए। दीपक जलाते समय मन ही मन यह कामना करनी चाहिए की `भविष्य में घर में

 धन हानि का सामना न करना पड़े´। जब दीपक शांत हो जाए तो उसे बहते हुए पानी में बहा देना चाहिए।

37॰ काले तिल परिवार के सभी सदस्यों के सिर पर सात बार उसार कर घर के उत्तर दिशा में फेंक दें, धनहानि बंद होगी।


38॰ घर की आर्थिक स्थिति ठीक करने के लिए घर में सोने का चौरस सिक्का रखें। कुत्ते को दूध दें। अपने कमरे में मोर का पंख रखें।


39॰ अगर आप सुख-समृद्धि चाहते हैं, तो आपको पके हुए मिट्टी के घड़े को लाल रंग से रंगकर, उसके मुख पर मोली बांधकर तथा उसमें जटायुक्त नारियल रखकर बहते हुए जल में प्रवाहित कर देना चाहिए।


40॰ अखंडित भोज पत्र पर 15 का यंत्र लाल चन्दन की स्याही से मोर के पंख की कलम से बनाएं और उसे सदा अपने पास रखें।


41॰ व्यक्ति जब उन्नति की ओर अग्रसर होता है, तो उसकी उन्नति से ईर्ष्याग्रस्त होकर कुछ उसके अपने ही उसके शत्रु बन जाते हैं और उसे सहयोग देने के स्थान पर वे ही उसकी उन्नति के मार्ग को अवरूद्ध करने लग जाते हैं, ऐसे शत्रुओं से निपटना अत्यधिक कठिन होता है। ऐसी ही परिस्थितियों से निपटने के लिए प्रात:काल सात बार हनुमान बाण का पाठ करें तथा हनुमान जी को लड्डू का भोग लगाए¡ और पाँच  लौंग पूजा स्थान में देशी कर्पूर के साथ जलाएँ। फिर भस्म से तिलक करके बाहर जाए¡। यह प्रयोग आपके जीवन में समस्त शत्रुओं को परास्त करने में सक्षम होगा, वहीं इस यंत्र के माध्यम से आप अपनी मनोकामनाओं की भी पूर्ति करने में सक्षम होंगे।


42॰ कच्ची धानी के तेल के दीपक में लौंग डालकर हनुमान जी की आरती करें। अनिष्ट दूर होगा और धन भी प्राप्त होगा।


43॰ अगर अचानक धन लाभ की स्थितियाँ बन रही हो, किन्तु लाभ नहीं मिल रहा हो, तो गोपी चन्दन की नौ डलियाँ लेकर केले के वृक्ष पर टाँग देनी चाहिए। स्मरण रहे यह चन्दन पीले धागे से ही बाँधना है। 


44॰ अकस्मात् धन लाभ के लिये शुक्ल पक्ष के प्रथम बुधवार को सफेद कपड़े के झंडे को पीपल के वृक्ष पर लगाना चाहिए। यदि व्यवसाय में आकिस्मक व्यवधान एवं पतन की सम्भावना प्रबल हो रही हो, तो यह प्रयोग बहुत लाभदायक है।


45॰ अगर आर्थिक परेशानियों से जूझ रहे हों, तो मन्दिर में केले के दो पौधे (नर-मादा) लगा दें।


46॰ अगर आप अमावस्या के दिन पीला त्रिकोण आकृति की पताका विष्णु मन्दिर में  ऊँचाई वाले स्थान पर इस प्रकार लगाएँ कि वह लहराता हुआ रहे, तो आपका भाग्य शीघ्र ही चमक उठेगा। झंडा लगातार वहाँ लगा रहना चाहिए। यह अनिवार्य शर्त है।


47॰ देवी लक्ष्मी के चित्र के समक्ष नौ बत्तियों का घी का दीपक जलाए¡। उसी दिन धन लाभ होगा।


48॰ एक नारियल पर कामिया सिन्दूर, मोली, अक्षत अर्पित कर पूजन करें। फिर हनुमान जी के मन्दिर में चढ़ा आएँ। धन लाभ होगा।


49॰ पीपल के वृक्ष की  जड़ में तेल का दीपक जला दें। फिर वापस घर आ जाएँ एवं पीछे मुड़कर न देखें। धन लाभ होगा।


50॰ प्रात:काल पीपल के वृक्ष में जल चढ़ाएँ तथा अपनी सफलता की मनोकामना करें और घर से बाहर शुद्ध केसर से स्वस्तिक बनाकर उस पर पीले पुष्प और अक्षत चढ़ाए¡। घर से बाहर निकलते समय दाहिना पाँव पहले बाहर निकालें।


51॰ एक हंडिया में सवा किलो हरी साबुत मूंग की दाल, दूसरी में सवा किलो डलिया वाला नमक भर

 दें। यह दोनों हंडिया घर में कहीं रख दें। यह क्रिया बुधवार को करें। घर में धन आना शुरू हो जाएगा। 

52॰ प्रत्येक मंगलवार को 11 पीपल के पत्ते लें। उनको गंगाजल से अच्छी तरह धोकर लाल चन्दन से हर पत्ते पर 7 बार राम लिखें। इसके बाद हनुमान जी के मन्दिर में चढ़ा आएं तथा वहां प्रसाद बाटें और इस मंत्र का जाप जितना कर सकते हो करें। `जय जय जय हनुमान गोसाईं, कृपा करो गुरू देव की नांई´ 7 मंगलवार लगातार जप करें। प्रयोग गोपनीय रखें। अवश्य लाभ होगा।


53॰ अगर नौकरी में तरक्की चाहते हैं, तो 7  तरह का अनाज चिड़ियों को डालें। 


54॰ ऋग्वेद (4/32/20-21) का प्रसिद्ध मन्त्र इस प्रकार है -

`ॐ भूरिदा भूरि देहिनो, मा दभ्रं भूर्या भर। भूरि घेदिन्द्र दित्ससि। ॐ भूरिदा त्यसि श्रुत: पुरूत्रा शूर वृत्रहन्। आ नो भजस्व राधसि।।´ 
(हे लक्ष्मीपते ! आप दानी हैं, साधारण दानदाता ही नहीं बहुत बड़े दानी हैं। आप्तजनों से सुना है कि संसारभर से निराश होकर जो याचक आपसे प्रार्थना करता है उसकी पुकार सुनकर उसे आप आर्थिक कष्टों
 से मुक्त कर देते हैं - उसकी झोली भर देते हैं। हे भगवान मुझे इस अर्थ संकट से मुक्त कर दो।) 

51॰ निम्न मन्त्र को शुभमुहूर्त्त में प्रारम्भ करें। प्रतिदिन नियमपूर्वक 5 माला श्रद्धा से भगवान् श्रीकृष्ण का ध्यान करके, जप करता रहे -

“ॐ क्लीं नन्दादि गोकुलत्राता दाता दारिद्र्यभंजन।
सर्वमंगलदाता च सर्वकाम प्रदायक:। श्रीकृष्णाय नम:।।´´

52॰ भाद्रपद मास के कृष्णपक्ष भरणी नक्षत्र के दिन चार घड़ों में पानी भरकर किसी एकान्त कमरे में रख दें। अगले दिन जिस घड़े का पानी  कुछ कम हो उसे अन्न से भरकर प्रतिदिन विधिवत पूजन करते रहें। शेष घड़ों के पानी को घर, आँगन, खेत आदि में छिड़क दें। अन्नपूर्णा देवी सदैव प्रसन्न रहेगीं। 


53॰ किसी शुभ कार्य के जाने से पहले -

रविवार को पान का पत्ता साथ रखकर जायें।
सोमवार को दर्पण में अपना चेहरा देखकर जायें।
मंगलवार को मिष्ठान खाकर जायें।
बुधवार को हरे धनिये के पत्ते खाकर जायें।
गुरूवार को सरसों के कुछ दाने मुख में डालकर जायें।
शुक्रवार को दही खाकर जायें।
शनिवार को अदरक और घी खाकर जाना चाहिये।

54॰ किसी भी शनिवार की शाम को दाल के दाने लें।

 उसपर थोड़ी सी दही और सिन्दूर लगाकर पीपल के वृक्ष के नीचे रख दें और बिना मुड़कर देखे वापिस आ जायें। सात शनिवार लगातार करने से आर्थिक समृद्धि तथा खुशहाली बनी रहेगी।


स्वास्थ्य के लिये टोटके


1॰ सदा स्वस्थ बने रहने के लिये रात्रि को पानी किसी लोटे या गिलास में सुबह उठ कर पीने के लिये रख दें। उसे पी कर बर्तन को उल्टा रख दें तथा दिन में भी पानी पीने के बाद बर्तन (गिलास आदि) को उल्टा रखने से यकृत सम्बन्धी परेशानियां नहीं होती तथा व्यक्ति सदैव स्वस्थ बना रहता है।


2॰ हृदय विकार, रक्तचाप के लिए एकमुखी या सोलहमुखी रूद्राक्ष श्रेष्ठ होता

 है। इनके न मिलने पर ग्यारहमुखी, सातमुखी अथवा पांचमुखी रूद्राक्ष का उपयोग कर सकते हैं। इच्छित रूद्राक्ष को लेकर श्रावण माह में किसी प्रदोष व्रत के दिन, अथवा सोमवार के दिन, गंगाजल से स्नान करा कर शिवजी पर चढाएं, फिर सम्भव हो तो रूद्राभिषेक करें या शिवजी पर “ॐ नम: शिवाय´´ बोलते हुए दूध से अभिषेक कराएं। इस प्रकार अभिमंत्रित रूद्राक्ष को काले डोरे में डाल कर गले में
 पहनें।

3॰ जिन लोगों को 1-2 बार दिल का दौरा पहले भी पड़ चुका हो वे उपरोक्त प्रयोग संख्या 2 करें तथा निम्न प्रयोग भी करें :-

एक पाचंमुखी रूद्राक्ष, एक लाल रंग का हकीक, 7 साबुत (डंठल सहित) लाल मिर्च को, आधा गज लाल कपड़े में रख कर व्यक्ति के ऊपर से 21 बार उसार कर इसे किसी नदी या बहते पानी में प्रवाहित कर दें।

4॰ किसी भी सोमवार से यह प्रयोग करें। बाजार से कपास के थोड़े से फूल खरीद लें।

 रविवार शाम 5 फूल, आधा कप पानी में साफ कर के भिगो दें। सोमवार को प्रात: उठ कर फूल को निकाल कर फेंक दें तथा बचे हुए पानी को पी जाएं। जिस पात्र में पानी पीएं, उसे उल्टा कर के रख दें। कुछ ही दिनों में आश्चर्यजनक स्वास्थ्य लाभ अनुभव करेंगे।

5॰ घर में नित्य घी का दीपक जलाना चाहिए। दीपक जलाते समय लौ पूर्व या दक्षिण दिशा की ओर हो या दीपक के मध्य में (फूलदार बाती) बाती लगाना शुभ फल

 देने वाला है।

6॰ रात्रि के समय शयन कक्ष में कपूर जलाने से बीमारियां, दु:स्वपन नहीं आते, पितृ दोष का नाश होता है एवं घर में शांति बनी रहती है।


7॰ पूर्णिमा के दिन चांदनी में खीर बनाएं। ठंडी होने पर चन्द्रमा और अपने पितरों को भोग लगाएं। कुछ खीर काले कुत्तों को दे दें। वर्ष भर पूर्णिमा पर ऐसा करते रहने से गृह क्लेश, बीमारी तथा व्यापार हानि से मुक्ति मिलती है। 


8॰ रोग

 मुक्ति के लिए प्रतिदिन अपने भोजन का चौथाई हिस्सा गाय को तथा चौथाई हिस्सा कुत्ते को खिलाएं।

9॰ घर में कोई बीमार हो जाए तो उस रोगी को शहद में चन्दन मिला कर चटाएं।


10॰ पुत्र बीमार हो तो कन्याओं को हलवा खिलाएं। पीपल के पेड़ की लकड़ी सिरहाने रखें।


11॰ पत्नी बीमार हो तो गोदान करें। जिस घर में स्त्रीवर्ग को निरन्तर स्वास्थ्य की पीड़ाएँ रहती हो, उस घर में तुलसी का पौधा लगाकर

 उसकी श्रद्धापूर्वक देखशल करने से रोग पीड़ाएँ समाप्त होती है।

12॰ मंदिर में गुप्त दान करें।


13॰ रविवार के दिन बूंदी के सवा किलो लड्डू मंदिर में प्रसाद के रूप में बांटे।


14॰ सदैव पूर्व या दक्षिण दिषा की ओर सिर रख कर ही सोना चाहिए। दक्षिण दिशा की ओर सिर कर के सोने वाले व्यक्ति में चुम्बकीय बल रेखाएं पैर से सिर की ओर जाती हैं, जो अधिक से अधिक रक्त खींच कर सिर की ओर लायेंगी,

 जिससे व्यक्ति विभिन्न रोंगो से मुक्त रहता है और अच्छी निद्रा प्राप्त करता है।

15॰ अगर परिवार में कोई परिवार में कोई व्यक्ति बीमार है तथा लगातार औषधि सेवन के पश्चात् भी स्वास्थ्य लाभ नहीं हो रहा है, तो किसी भी रविवार से आरम्भ करके लगातार 3 दिन तक गेहूं के आटे का पेड़ा तथा एक लोटा पानी व्यक्ति के सिर के ऊपर से उबार कर जल को पौधे में डाल दें तथा पेड़ा गाय को खिला दें। अवश्य ही

 इन 3 दिनों के अन्दर व्यक्ति स्वस्थ महसूस करने लगेगा। अगर टोटके की अवधि में रोगी ठीक हो जाता है, तो भी प्रयोग को पूरा करना है, बीच में रोकना नहीं चाहिए।

16॰ अमावस्या को प्रात: मेंहदी का दीपक पानी मिला कर बनाएं। तेल का चौमुंहा दीपक बना कर 7 उड़द के दाने, कुछ सिन्दूर, 2 बूंद दही डाल कर 1 नींबू की दो फांकें शिवजी या भैरों जी के चित्र का पूजन कर, जला दें। महामृत्युजंय मंत्र की एक माला

 या बटुक भैरव स्तोत्र का पाठ कर रोग-शोक दूर करने की भगवान से प्रार्थना कर, घर के दक्षिण की ओर दूर सूखे कुएं में नींबू सहित डाल दें। पीछे मुड़कर नहीं देखें। उस दिन एक ब्राह्मण -ब्राह्मणी को भोजन करा कर वस्त्रादि का दान भी कर दें। कुछ दिन तक पक्षियों, पशुओं और रोगियों की सेवा तथा दान-पुण्य भी करते रहें। इससे घर की बीमारी, भूत बाधा, मानसिक अशांति निश्चय ही दूर होती है।

17॰ किसी

 पुरानी मूर्ति के ऊपर घास उगी हो तो शनिवार को मूर्ति का पूजन करके, प्रात: उसे घर ले आएं। उसे छाया में सुखा लें। जिस कमरे में रोगी सोता हो, उसमें इस घास में कुछ धूप मिला कर किसी भगवान के चित्र के आगे अग्नि पर सांय, धूप की तरह जलाएं और मन्त्र विधि से ´´ ॐ माधवाय नम:। ॐ अनंताय नम:। ॐ अच्युताय नम:।´´ मन्त्र की एक माला का जाप करें। कुछ दिन में रोगी स्वस्थ हो जायेगा। दान-धर्म और दवा
 उपयोग अवश्य करें। इससे दवा का प्रभाव बढ़ जायेगा।

18॰ अगर बीमार व्यक्ति ज्यादा गम्भीर हो, तो जौ का 125 पाव (सवा पाव) आटा लें। उसमें साबुत काले तिल मिला कर रोटी बनाएं। अच्छी तरह सेंके, जिससे वे कच्ची न रहें। फिर उस पर थोड़ा सा तिल्ली का तेल और गुड़ डाल कर पेड़ा बनाएं और एक तरफ लगा दें। फिर उस रोटी को बीमार व्यक्ति के ऊपर से 7 बार वार कर किसी भैंसे को खिला दें। पीछे मुड़ कर न देखें और न

 कोई आवाज लगाए। भैंसा कहाँ मिलेगा, इसका पता पहले ही मालूम कर के रखें। भैंस को रोटी नहीं खिलानी है, केवल भैंसे को ही श्रेष्ठ रहती है। शनि और मंगलवार को ही यह कार्य करें।

19॰ पीपल के वृक्ष को प्रात: 12 बजे के पहले, जल में थोड़ा दूध मिला कर सींचें और शाम को तेल का दीपक और अगरबत्ती जलाएं। ऐसा किसी भी वार से शुरू करके 7 दिन तक करें। बीमार व्यक्ति को आराम मिलना प्रारम्भ हो

 जायेगा।

20॰ किसी कब्र या दरगाह पर सूर्यास्त के पश्चात् तेल का दीपक जलाएं। अगरबत्ती जलाएं और बताशे रखें, फिर वापस मुड़ कर न देखें। बीमार व्यक्ति शीघ्र अच्छा हो जायेगा।


21॰ किसी तालाब, कूप या समुद्र में जहां मछलियाँ हों, उनको शुक्रवार से शुक्रवार तक आटे की गोलियां, शक्कर मिला कर, चुगावें। प्रतिदिन लगभग 125 ग्राम गोलियां होनी चाहिए। रोगी ठीक होता चला जायेगा।


22॰  शुक्रवार रात को मुठ्ठी भर काले साबुत चने भिगोयें। शनिवार की शाम काले कपड़े में उन्हें बांधे तथा एक कील और एक काले कोयले का टुकड़ा रखें। इस पोटली को किसी तालाब या कुएं में फेंक दें। फेंकने से पहले रोगी के ऊपर से 7 बार वार दें। ऐसा 3 शनिवार करें। बीमार व्यक्ति शीघ्र अच्छा हो जायेगा।


23॰ सवा सेर (1॰25 सेर) गुलगुले बाजार से खरीदें। उनको रोगी पर से 7 बार वार कर चीलों को खिलाएं। अगर

 चीलें सारे गुलगुले, या आधे से ज्यादा खा लें तो रोगी ठीक हो जायेगा। यह कार्य शनि या मंगलवार को ही शाम को 4 और 6 के मध्य में करें। गुलगुले ले जाने वाले व्यक्ति को कोई टोके नहीं और न ही वह पीछे मुड़ कर देखे।

24॰ यदि लगे कि शरीर में कष्ट समाप्त नहीं हो रहा है, तो थोड़ा सा गंगाजल नहाने वाली बाल्टी में डाल कर नहाएं।


25॰ प्रतिदिन या शनिवार को खेजड़ी की पूजा कर उसे सींचने से रोगी को दवा

 लगनी शुरू हो जाती है और उसे धीरे-धीरे आराम मिलना प्रारम्भ हो जायेगा। यदि प्रतिदिन सींचें तो 1 माह तक और केवल शनिवार को सींचें तो 7 शनिवार तक यह कार्य करें। खेजड़ी के नीचे गूगल का धूप और तेल का दीपक जलाएं।

26॰ हर मंगल और शनिवार को रोगी के ऊपर से इमरती को 7 बार वार कर कुत्तों को खिलाने से धीरे-धीरे आराम मिलता है। यह कार्य कम से कम 7 सप्ताह करना चाहिये। बीच में रूकावट न हो, अन्यथा

 वापस शुरू करना होगा।

27॰ साबुत मसूर, काले उड़द, मूंग और ज्वार चारों बराबर-बराबर ले कर साफ कर के मिला दें। कुल वजन 1 किलो हो। इसको रोगी के ऊपर से 7 बार वार कर उनको एक साथ पकाएं। जब चारों अनाज पूरी तरह पक जाएं, तब उसमें तेल-गुड़ मिला कर, किसी मिट्टी के दीये में डाल कर दोपहर को, किसी चौराहे पर रख दें। उसके साथ मिट्टी का दीया तेल से भर कर जलाएं, अगरबत्ती जलाएं। फिर पानी से उसके चारों

 ओर घेरा बना दें। पीछे मुड़ कर न देखें। घर आकर पांव धो लें। रोगी ठीक होना शुरू हो जायेगा।

28॰ गाय के गोबर का कण्डा और जली हुई लकड़ी की राख को पानी में गूंद कर एक गोला बनाएं। इसमें एक कील तथा एक सिक्का भी खोंस दें। इसके ऊपर रोली और काजल से 7 निशान लगाएं। इस गोले को एक उपले पर रख कर रोगी के ऊपर से 3 बार उतार कर सुर्यास्त के समय मौन रह कर चौराहे पर रखें। पीछे मुड़ कर न देखें।


29॰  शनिवार के दिन दोपहर को 2॰25 (सवा दो) किलो बाजरे का दलिया पकाएं और उसमें थोड़ा सा गुड़ मिला कर एक मिट्टी की हांडी में रखें। सूर्यास्त के समय उस हांडी को रोगी के शरीर पर बायें से दांये 7 बार फिराएं और चौराहे पर मौन रह कर रख आएं। आते-जाते समय पीछे मुड़ कर न देखें और न ही किसी से बातें करें।


30॰ धान कूटने वाला मूसल और झाडू रोगी के ऊपर से उतार कर उसके सिरहाने रखें।


31॰ सरसों के तेल को  गरम कर इसमें एक चमड़े का टुकड़ा डालें, पुन: गर्म कर इसमें नींबू, फिटकरी, कील और काली कांच की चूड़ी डाल कर मिट्टी के बर्तन में रख कर, रोगी के सिर पर फिराएं। इस बर्तन को जंगल में एकांत में गाड़ दें।


32॰ घर से बीमारी जाने का नाम न ले रही हो, किसी का रोग शांत नहीं हो रहा हो तो एक गोमती चक्र ले कर उसे हांडी में पिरो कर रोगी के पलंग के पाये पर बांधने से आश्चर्यजनक परिणाम मिलता है। उस दिन

 से रोग समाप्त होना शुरू हो जाता है।

33॰ यदि पर्याप्त उपचार करने पर भी रोग-पीड़ा शांत नहीं हो रही हो अथवा बार-बार एक ही रोग प्रकट होकर पीड़ित कर रहा हो तथा उपचार करने पर भी शांत हो जाता हो, ऐसे व्यक्ति को अपने वजन के बराबर गेहू¡ का दान रविवार के दिन करना चाहिए। गेहूँ का दान जरूरतमंद एवं अभावग्रस्त व्यक्तियों को ही करना चाहिए।


टोटका


सूर्योदय के बाद और सूर्यास्त से पहले इस टोटके को करना है। एक रोटी लें। इस रोटी को अपने ऊपर से 31 बार ऊवार लें। प्रत्येक बार वारते समय इस मन्त्र का उच्चारण भी करें।


-ऊँ दुभाग्यनाशिनी दुं दुर्गाय नम:।


- बाद में रोटी को कुत्ते को खिला दें अथवा बहते पानी में बहा दें।


- यह अद्भुत प्रयोग है। इसके बाद आप देखेंगे कि किस्मत के दरवाजे आपके लिए खुल गए हैं।

 बिना शंका के इस प्रयोग को मन से करने से शीघ्र लाभ होता है।

You May Also Like:
Laal Kitab Ke Achook Totke
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...
Instagram





PALM READING SERVICE


SEND ME YOUR PALM IMAGES FOR DETAILED & PERSONALIZED PALM READING



Question: I want to get palm reading done by you so let me know how to contact you?
Answer: Contact me at Email ID: nitinkumar_palmist@yahoo.in.


Question: I want to know what includes in Palm reading report?

Answer: You will get detailed palm reading report covering all aspects of life. Past, current and future predictions. Your palm lines and signs, nature, health, career, period, financial, marriage, children, travel, education, suitable gemstone, remedies and answer of your specific questions. It is up to 4-5 pages.



Question: When I will receive my palm reading report?

Answer: You will get your full detailed palm reading report in 9-10 days to your email ID after receiving the fees for palm reading report.



Question: How you will send me my palm reading report?

Answer: You will receive your palm reading report by e-mail in your e-mail inbox.



Question: Can you also suggest remedies?

Answer: Yes, remedies and solution of problems are also included in this reading.


Question: Can you also suggest gemstone?

Answer: Yes, gemstone recommendation is also included in this reading.


Question: How to capture palm images?

Answer: Capture your palm images by your mobile camera or you can also use scanner.


Question: Give me sample of palm images so I get an idea how to capture palm images?

Answer: You need to capture full images of both palms (Right and left hand), close-up of both palms, and side views of both palms. See images below.



Question: What other information I need to send with palm images?

Answer: You need to mention the below things with your palm images:- 



  • Your Gender: Male/Female 
  • Your Age: 
  • Your Location: 
  • Your Questions: 

Question: How much the detailed palm reading costs?

Answer: Cost of palm reading:


  • India: Rs. 600/- 
  • Outside Of India: 20 USD

( For instant palm reading in 24 hours you need to pay extra Rs. 500 or 15 USD ) 
(India: 600 + 500 = Rs. 1100/-)
(Outside Of India: 20 + 15 = 35 USD) 

Question: How you will confirm that I have made payment?

Answer: You need to provide me some proof of the payment made like:

  • UTR/Reference number of transaction. 
  • Screenshot of payment. 
  • Receipt/slip photo of payment.

Question: I am living outside of India so what are the options for me to pay you?

Answer: Payment options for International Clients:

International clients (those who are living outside of India) need to pay me 20 USD via PayPal or Western Union Money Transfer.

  • PayPal (PayPal ID : nitinkumar_palmist@yahoo.in)
    ( Please select "goods or services" instead of "personal" )
  • PayPal direct link for $20 (You will get reading in 9/10 days) - PayPal Payment 20 dollars
    PayPal direct link for $35 (You will get reading in 24 hours) - PayPal Payment 35 dollars
  • Western Union: Contact me for details.

Question: I am living in India so what are the options for me to pay you?


Answer: Payment options for Indian Clients:

  • Indian client needs to pay me 600/- Rupees in my SBI Bank via netbanking or direct cash deposit.

  • SBI Bank: (State Bank of India)
       Nitin Kumar Singhal
       A/c No.: 61246625123
       IFSC CODE: SBIN0031199
       Branch: Industrial Estate
       City: Jodhpur, Rajasthan. 



  • ICICI BANK: 
      (Contact For Details)

Email ID: nitinkumar_palmist@yahoo.in



FREE PALMISTRY ARTICLES


In this palmistry website you will find palmistry articles in both Hindi and English languages with pictures, figures and diagrams. If you are interested in palmistry and want to become an expert then this blog will be helpful for you and guide you how to read palms.

You can learn basics of palmistry, lines on hand, signs on hand, and you can learn about Indian Palmistry here.


लाल किताब के प्रभावशाली टोटके


यदि आप पारिवारिक या व्यवसायिक समस्या से मुक्ति पाना चाहते है तो यहाँ दिए गए उपायो को एक बार अवश्य करें । आपको अवश्य लाभ होगा । आज अधिकतर लोग किसी न किसी परेशानी से ग्रस्त है । किसी को व्यापार में घाटा हो रहा है , किसी को नौकरी नहीं मिल रही है , कोई भूत-प्रेत या ऊपरी हवाओ से परेशान है, कोई संतान के न होने से दुखी है तो कोई भयंकर रोगो से ग्रस्त है ।

यहाँ पर प्राचीन टोन टोटके द्वारा  अनेक समस्याओ का समाधान प्रस्तुत किया गया है ।

राशि रत्न



अपना राशि रत्न प्राप्त करें । सभी राशियों के रत्न लैब से प्रमाणित  मिलते है । यदि आप अपना राशि रत्न लेना चाहते है तो व्हाट्सप्प पर संपर्क करें ।

Whatsapp No:- 8696725894




Client's Feedback - August 2017



If you don’t have your real date of birth then palmistry is there to help you for future life predictions.  Our palm lines, signs, mounts and shapes which are very useful in predicting the person’s life. We can predict your future from the lines and signs of your both palms. We can predict your future by studying your palm lines and signs. There is no need to send us your date of birth , time of birth , place of birth etc . Palm told the personality ,future ups and downs thus a experienced palmist can guide you to deal with upcoming challenges with vedic remedies.

My Website: http://www.indianpalmreading.com